Breaking News
May 11, 2020 - श्री जामदार राय, समाजसेवी ने पी एम् केयर्स फण्ड में किया 11 लाख का योगदान
March 20, 2020 - कोरोना से बचाव के लिए डाकघरों में हुए विशेष प्रबंध
March 20, 2020 - कमलनाथ ने दिया मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा
March 20, 2020 - चंद्रप्रकाश राज अध्यक्ष व पंकज श्रीवास्तव महासचिव बने
March 18, 2020 - प्रत्येक ट्रिप के पूर्व बसों को सैनिटाइजर करें-जिलाधिकारी
February 28, 2020 - केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री को लिखा पत्र- जल शक्ति मिशन में राजस्थान के लिए 90 प्रतिशत अंशदान – मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत
February 28, 2020 - सारण जिले में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने के लिए जिलाधिकारी ने दिया शक्त निर्देश
February 26, 2020 - भवन निर्माण तकनीकी में बदलाव जरुरी -जिलाधिकारी सारण
मालगाड़ियों की भी समय सारिणी बनाएगी भारतीय रेल

मालगाड़ियों की भी समय सारिणी बनाएगी भारतीय रेल

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे मालगाड़ियों के आवागमन की भी समय सारिणी बनाएगी ताकि आपूर्ति में सुधार करते हुए ढुलाई के लिए अधिक से अधिक माल आकर्षित किया जा सके। रेलवे पहली बार इस तरह की समय सारिणी बनाने जा रही है। मौजूदा व्यवस्था के तहत देश भर में व्यस्त रेललाइनों पर मालगाड़ियों के बजाय यात्री रेलगाड़ियों को वरीयता दी जाती है। यही कारण है कि सामान की आपूर्ति को लेकर अनिश्चिता बनी रहती है और इसमें देरी भी होती है। डेडीकेटेड फ्रेट कॉरीडोर कॉरपोरेशन (डीएफसीसी) के प्रबंध निदेशक आदेश शर्मा ने कहा कि रेल लाइनों पर भीड़ भाड़ के कारण मालगाड़ियों को लूप लाइनों पर रखा जाता है ताकि यात्री गाड़ियों को रास्ता दिया जा सके। उल्लेखनीय है कि डीएफसीसी एक विशेष कंपनी है जिसकी स्थापना देश में माल परिवहन के समर्पितत गलियारों के निर्माण, रखरखाव व परिचालन के लिए की गई। डीएफसीसी इस समय विशेष तौर पर माल के परिवहन के लिये दो कारीडोर वेस्टर्न डीएफसी व ईस्टर्न डीएफसी बना रही है। शर्मा ने कहा, ‘जब ये दो गलियारे पूरे हो जाएंगे तो हम माल परिवहन को सड़क मार्ग से रेल मार्ग पर लाने में सक्षम होंगे। इसके साथ ही हम माल गाड़ियों के लिए समयसारिणी भी लाएंगे।’ एक समय था जब रेलवे कुल माल परिवहन में से 80 प्रतिशत ढुलाई करती थी लेकिन समय के साथ उसका यह हिस्सा कम होकर 36 प्रतिशत रह गया। माल का परिवहन सड़क मार्ग में बढ़ता चला गया।

Related Articles