Breaking News
May 3, 2019 - इरकॉन ने मनाया 43वां वार्षिक दिवस
April 18, 2019 - डाक विभाग को सर्वाधिक व्यवसाय देने वाले संस्थानों को डाक निदेशक केके यादव ने किया सम्मानित 
April 14, 2019 - साहित्यकार व ब्लॉगर आकांक्षा यादव  “स्त्री अस्मिता सम्मान-2019” से  सम्मानित
December 31, 2018 - आम आदमी के हित चिंतक थे लोकबंधु राजनारायण : गोपाल जी राय, लेखक व विचारक
December 31, 2018 - सरकार ने एमआईजी योजना के लिए सीएलएसएस की अवधि 31 मार्च, 2020 तक बढ़ाई
December 17, 2018 - गोपाल जी राय को विद्या सागर सम्मान
December 17, 2018 - श्री अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री एवं श्री सचिन पायलट ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
December 4, 2018 - डाक निदेशक केके यादव ने किया दर्पण कोर सिस्टम इंटीग्रेटर का शुभारम्भ
योग-दुनिया को दिया गया सबसे बड़ा उपहार

योग-दुनिया को दिया गया सबसे बड़ा उपहार

केंद्रीय गृह मंत्री राrajnath-singh_360x270_41434862348जनाथ सिंह ने योग को भारत की तरफ से विश्व को दिया गया सबसे बड़ा उपहार बताते हुए कहा है कि इसे किसी जाति, धर्म अथवा मजहब की सीमाओं में बांधकर नहीं देखा जाना चाहिए।

राजनाथ सिंह ने पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर लखनऊ में विशाल केडी सिंह स्टेडियम में आयोजित सामूहिक योग सत्र को संबोधित करते हुए कहा, आज भारत में ही नहीं, बल्कि सारी दुनिया में योग और आयुर्वेद का अभ्यास किया जा रहा है, जो कि हमारी संस्कृति का अभिन्न अंग है।

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड समेत कई मुस्लिम संगठनों के विरोध के बावजूद केडी सिंह बाबू स्टेडियम में योगाभ्यास के लिए जुटे लगभग 15 हजार लोगों में बड़ी संख्या में मुसलमान भी शामिल थे।

उत्तर प्रदेश सरकार ने आधिकारिक रूप से तो योग दिवस के कार्यक्रम नहीं करते हुए इसे लोगों की स्वेच्छा पर छोड़ दिया था, इसके बावजूद योग सत्र में राज्य सरकार के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की अच्छी खासी उपस्थिति देखी गई। योग सत्र में ‘सूर्य नमस्कार’ आसन का अभ्यास नहीं किया गया, पर कई योग क्रियाओं में ‘ओम’ का उच्चारण किया गया।

राजनाथ ने योग को भारत की तरफ से दुनिया को दिया गया सबसे बड़ा उपहार बताते हुए कहा, दुनिया में या तो बौद्ध धर्म का सर्वाधिक प्रचार हुआ है या फिर योग का, जिसे दुनिया के 191 देशों ने स्वीकार किया है। गृह मंत्री ने लगभग एक घंटे तक चले योग अभ्यास शिविर में स्वयं भाग लिया और आसन एवं योग की विभिन्न क्रियाओं का अभ्यास किया।

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *