- HEADLINES, Home, INTERVIEW, LIVE TV, SPECIAL STORY, STATE WATCH

नीतीश सरकार की गलत नीतियों के कारण, दारू व बालू माफिया प्रशासन और पुलिस पर करा रहे हैं जानलेवा हमला-राजद

छपरा, 08 सितंबर 2021: सारण जिला राजद प्रवक्ता ने अवतार नगर थाना क्षेत्र के बोधा छपरा व दिघवारा थाना क्षेत्र के आमी मोड़ के पास परिवहन विभाग और माइनिंग के अधिकारियों तथा गरखा थाना प्रभारी द्वारा बालू के अवैध कारोबार को रोकने के दौरान बालू के कारोबारियों द्वारा जानलेवा हमला किये जाने पर कड़ी आपत्ति जताई है। राजद प्रवक्ता ने कहा कि नीतीश सरकार जानबूझ कर अपने प्रशासनिक अधिकारियों एवं पुलिसकर्मियों को दारू एवं बालू माफियाओं के हाथों पिटवा बलि का बकरा बना रही है, जिससे आम जनता में काफी रोष व्याप्त है।

राजद प्रवक्ता ने नीतीश सरकार के कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि जब यूपी और झारखंड के सिमाओं पर बिहार सरकार द्वारा सघन जांच पोस्ट खोल सैकड़ों अधिकारियों एवं पुलिस के जवानों को तैनात किए हुए है तो कैसे बिहार के सिमा में रोज अंग्रेजी शराब की बड़ी खेप पंहुच रही है और कैसे बिहार के हर शहरों व कस्बों में ऊंची कीमतों पर शराब की होम डिलेवरी हो रही है ?

राजद प्रवक्ता ने कहा कि अवैध बालू व शराब के कारोबार में सरकार के आलाधिकारियों की सिद्धि संलिप्तता है,और करवाई होती है चौकीदार और सिपाही पर जिससे नीतीश सरकार का गरीब विरोधी चेहरा उजागर होता है। एक तरफ सरकार के भ्रष्ट अधिकारियों द्वारा अवैध देशी शराब के कारोबारियों को संरक्षण दिया जाता है वहीं दूसरी ओर ईमानदार पुलिसकर्मियों द्वारा करवाई किये जाने पर जानलेवा हमला किया जाता है। राजद प्रवक्ता ने कहा कि बिहार में बालू के कारोबार से लाखों गरीब परिवारों का रोजी रोटी चलता है, बिहार की डबल इंजन वाली सरकार ने बालू व्यवसाय से जुड़े लोगों के साथ भेदभाव पूर्ण नीति अपना कर पंगु बनाने का काम की है जिससे बालू व्यवसाय से जुड़े लाखों गरीब परिवारों के बीच भुखों मरने की स्थिति पैदा हो गई है।

बिहार सरकार अविलंब अपने गलत व त्रुटिपूर्ण शराब व बालू खनन के नीतियों में सुधार कर बिहार की जनता का कल्याण करने का काम करे।

रिपोर्ट: नागेन्द्र कुमार, न्यूज़ इंक