Breaking News
March 31, 2018 - राजस्थान दिवस पर विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली प्रतिभाओं का सम्मान
March 24, 2018 - प्रदेश में बालकों की देखरेख और संरक्षण अधिनियम को प्रभावी ढ़ंग से लागू करें
March 24, 2018 - युवा विकास प्रेरक समीक्षा एवं मार्गदर्शन आमजन तक पहुंचाएं गुड गवर्नेंस का लाभ – मुख्यमंत्री
March 24, 2018 - विश्व क्षय दिवस पर प्रधानमंत्री का संदेश
March 21, 2018 - मुख्य सचिव श्री निहाल चंद गोयल ने स्वागत उद्बोधन में ‘ई—गवर्नेंस एवं स्टार्टअप’ पर जोर दिया
March 21, 2018 - राजस्थान डिजी मेला में मुख्यमंत्री ने हैकाथन विजेता को शम्मानित किया
March 21, 2018 - सरकार ने चीनी निर्यात पर सीमा शुल्क को मौजूदा 20 % से घटाकर शून्य किया
March 21, 2018 - राष्ट्रपति कल भारतीय वायु सेना के 51 स्क्वाड्रन को मानक और 230 सिग्नल इकाई को कलर्स प्रदान करेंगे
ISRO के इस मिशन की 7 खास बातें

ISRO के इस मिशन की 7 खास बातें

अंतरिक्ष कार्यक्रमों से संबंधित मिशन की दिशा में भारत शुक्रवार को नया कीर्तिमान रचने की ओर है. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) शुक्रवार को अपने सबसे भारी वाणिज्यिक मिशन को प्रक्षेपित करेगा. इस मिशन को PSLV-C28 प्रक्षेपण यान से प्रक्षेपित किया जाएगा. आगे जानिए ISRO के इस मिशन की 7 खास बातें.

1. ब्रिटेन के पांच उपग्रहों को मिशन के जरिए प्रक्षेपित किया जाएगा.

2.  इन पांचों उपग्रह का कुल वजन 1440 किलोग्राम है.

3. ये इसरो और इसकी वाणिज्यिक इकाई एंट्रिक्स का अब तक का सबसे भारी मिशन है.

4. ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (PSLV) का यह 30वां मिशन है.

5. इस मिशन के जरिए तीन एक जैसे डीएमसी3 ऑप्टिकल उपग्रह को प्रक्षेपित किया जाएगा.

6. इनका निर्माण ब्रिटेन की स्युरे सैटेलाइट टेक्नोलॉजी लिमिटेड ने किया है.

7. इन उपग्रहों के अलावा दो सहायक उपग्रहों को भी प्रक्षेपित किया जाएगा.

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *