Breaking News
December 11, 2017 - मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना से गरीब वर्ग की बेटियों के हाथों में लगे गी मेंहदी
December 5, 2017 - उ0प्र0 एवं उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्रियों ने गोरखपुर में महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के स्थापना समारोह को सम्बोधित किया
December 4, 2017 - राष्‍ट्रपति कल डॉ. भीमराव अम्‍बेडकर विश्‍वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे 
November 9, 2017 - एक सरप्राइज रिजल्ट की ओर बड़ता हुआ हिमाचल चुनाव
October 27, 2017 - डाक निदेशक श्री केके यादव और उनकी पत्नीआकांक्षा जी ‘शब्द निष्ठा सम्मान’ से सम्मानित हुए
September 30, 2017 - अब डाक टिकटों पर दिखेगी रामायण- डाक विभाग ने जारी किया 11 डाक टिकटों का सेट : श्री कृष्ण कुमार यादव
September 30, 2017 - 85वां वायु सेना दिवस के अवसर पर 8 अक्टूबर को वायु प्रदर्शन
September 30, 2017 - भारत अवैध वन्‍य जीवन व्‍यापार की समस्‍या पर ध्‍यान देने के लिए वैश्विक वन्‍य जीवन कार्यक्रम की मेजबानी करेगा: डा. हर्षवर्धन
ISRO के इस मिशन की 7 खास बातें

ISRO के इस मिशन की 7 खास बातें

अंतरिक्ष कार्यक्रमों से संबंधित मिशन की दिशा में भारत शुक्रवार को नया कीर्तिमान रचने की ओर है. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) शुक्रवार को अपने सबसे भारी वाणिज्यिक मिशन को प्रक्षेपित करेगा. इस मिशन को PSLV-C28 प्रक्षेपण यान से प्रक्षेपित किया जाएगा. आगे जानिए ISRO के इस मिशन की 7 खास बातें.

1. ब्रिटेन के पांच उपग्रहों को मिशन के जरिए प्रक्षेपित किया जाएगा.

2.  इन पांचों उपग्रह का कुल वजन 1440 किलोग्राम है.

3. ये इसरो और इसकी वाणिज्यिक इकाई एंट्रिक्स का अब तक का सबसे भारी मिशन है.

4. ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (PSLV) का यह 30वां मिशन है.

5. इस मिशन के जरिए तीन एक जैसे डीएमसी3 ऑप्टिकल उपग्रह को प्रक्षेपित किया जाएगा.

6. इनका निर्माण ब्रिटेन की स्युरे सैटेलाइट टेक्नोलॉजी लिमिटेड ने किया है.

7. इन उपग्रहों के अलावा दो सहायक उपग्रहों को भी प्रक्षेपित किया जाएगा.

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *