Breaking News
November 9, 2017 - एक सरप्राइज रिजल्ट की ओर बड़ता हुआ हिमाचल चुनाव
October 27, 2017 - डाक निदेशक श्री केके यादव और उनकी पत्नीआकांक्षा जी ‘शब्द निष्ठा सम्मान’ से सम्मानित हुए
September 30, 2017 - अब डाक टिकटों पर दिखेगी रामायण- डाक विभाग ने जारी किया 11 डाक टिकटों का सेट : श्री कृष्ण कुमार यादव
September 30, 2017 - 85वां वायु सेना दिवस के अवसर पर 8 अक्टूबर को वायु प्रदर्शन
September 30, 2017 - भारत अवैध वन्‍य जीवन व्‍यापार की समस्‍या पर ध्‍यान देने के लिए वैश्विक वन्‍य जीवन कार्यक्रम की मेजबानी करेगा: डा. हर्षवर्धन
September 30, 2017 - राष्‍ट्रपति ने दशहरे के शुभ अवसर पर देश वासियों को बधाई दी
September 30, 2017 - मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने शारदीय नवरात्रि एवं विजयदशमी (दशहरा) पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई दी
September 8, 2017 - एक सहभागी, जीवंत और समावेशी लोकतंत्र बनाने की दिशा में साक्षरता अवश्यक कदम है- उपराष्ट्रपति
डाकघरों में  सुकन्याओं ने खोले 1 लाख 57 हजार  खाते – डाक निदेशक के.के. यादव

डाकघरों में  सुकन्याओं ने खोले 1 लाख 57 हजार  खाते – डाक निदेशक के.के. यादव

जोधपुर (राजस्थान) : ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ के तहत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा आरम्भ की गई ‘सुकन्या समृद्धि योजना’ में जोधपुर पोस्टल रीजन ने पहल करते हुए नई इबारत लिखी है। एक तरफ इसके तहत 10 साल तक की बेटियों के खूब खाते  खोले गए हैं, वहीं कई गाँवों को संपूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम बना दिया है।

राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि जोधपुर  रीजन में  54 गाँवों को शत-प्रतिशत सुकन्या समृद्धि ग्राम बना दिया गया है। इन गाँवों में दस साल तक की सभी योग्य बालिकाओं के सुकन्या खाते डाकघर में खोले जा चुके हैं। यही नहीं, इन गाँवों में यदि किसी घर में बेटी  के  जन्म की किलकारी गूँजती  है तो डाकिया तुरंत उसका सुकन्या खाता खुलवाने हेतु पहुँच जाता है। डाक निदेशक श्री यादव ने बताया  कि जोधपुर क्षेत्र  के डाकघरों  में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत वर्तमान में लगभग 1 लाख 57  हजार  खाते खोले जा चुके हैं, जिनमें  करीब 77 करोड़ रूपये जमा हुए हैं। 

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री  श्री नरेंद्र मोदी ने जनवरी, 2015 में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत सुकन्या  समृद्धि योजना  का आगाज किया था। इसके तहत किसी भी  डाकघर में दस साल तक की बालिकाओं का सुकन्या समृद्धि खाता खुलवा सकते है। डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि इसमें एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 1,000 और अधिकतम डेढ़ लाख रूपये तक जमा किये जा सकते हैं। इस योजना में खाता खोलने से मात्र 15  वर्ष तक धन जमा कराना होगा।  बेटी की उम्र 18 वर्ष होने पर जमा राशि का 50 प्रतिशत व सम्पूर्ण राशि 21 वर्ष पूरा होने पर निकाली जा सकती है। वर्तमान में ब्याज दर 8.4  प्रतिशत हैं और जमा धनराशि में आयकर छूट का भी प्रावधान है। जोधपुर डाक मंडल के अंतर्गत 8 गाँवों – शिकारपुरा, आगोलाई, केतुकल्ला, बिराई, सामराऊ, सांदेलाव, डिम्पासरिया, जाम्बा  को  शत-प्रतिशत सुकन्या समृद्धि ग्राम बनाया जा चुका  है।

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव का कहना है सुकन्या समृद्धि योजना सिर्फ निवेश का एक माध्यम नहीं है, बल्कि यह बालिकाओं के उज्ज्वल व समृद्ध भविष्य से भी जुडा हुआ हैं। इस योजना के आर्थिक के साथ साथ सामाजिक आयाम महत्वपूर्ण हैं। इसमें जमा धनराशि पूर्णतया बेटियों के लिए ही होगी, जो उनकी शिक्षा, कैरियर  एवं विवाह में उपयोगी होगी। यह योजना बालिकाओं के सशक्तिकरण के द्वारा भविष्य में महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा देगी।