Breaking News
September 30, 2017 - अब डाक टिकटों पर दिखेगी रामायण- डाक विभाग ने जारी किया 11 डाक टिकटों का सेट : श्री कृष्ण कुमार यादव
September 30, 2017 - 85वां वायु सेना दिवस के अवसर पर 8 अक्टूबर को वायु प्रदर्शन
September 30, 2017 - भारत अवैध वन्‍य जीवन व्‍यापार की समस्‍या पर ध्‍यान देने के लिए वैश्विक वन्‍य जीवन कार्यक्रम की मेजबानी करेगा: डा. हर्षवर्धन
September 30, 2017 - राष्‍ट्रपति ने दशहरे के शुभ अवसर पर देश वासियों को बधाई दी
September 30, 2017 - मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने शारदीय नवरात्रि एवं विजयदशमी (दशहरा) पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई दी
September 8, 2017 - एक सहभागी, जीवंत और समावेशी लोकतंत्र बनाने की दिशा में साक्षरता अवश्यक कदम है- उपराष्ट्रपति
September 8, 2017 - जोधपुर जिले का कांकेलाव  गाँव बना “सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि योजना ग्राम”
July 10, 2017 - श्री नरेन्द्र मोदी राज्यों के मुख्य सचिवो को शम्बोधित किया
विद्या वाचस्पति से विभूषित किए गए गोपाल जी राय

विद्या वाचस्पति से विभूषित किए गए गोपाल जी राय

वाराणसी । विक्रमशिला हिन्दी विद्यापीठ (विश्वविद्यालय) भागलपुर बिहार ने उज्जैन मे हुवे अपने दो दिवसीय (13-14 दिसंबर) 21 वां सारस्वत सम्मान समारोह में गाजीपुर जनपद के शेरपुर निवासी गोपाल जी राय को उनके दो  दशक की पत्रकारीय व साहित्यिक अवदान तथा विशिष्ट कार्य के लिए अपना प्रतिष्ठित मानद सम्मानोपाधि, ‘विद्यावाचस्पति’ (पीएच.डी.) से विभूषित किया है।वर्तमान समय मे श्री राय नई दिल्ली स्थित सूचना मंत्रालय के  अंतर्गत डी ए वी पी में वरिष्ठ अधिकारी के रूप मे कार्यरत है ।

श्री राय  ने पत्रकारिता  और विज्ञापन के क्षेत्र में पिछले दो  दशक से विभिन्न आयामों को लेकर काम किया है। श्री राय  के राजनैतिक एवं साहित्यिक विषयों पर आधारित मौलिक आलेख देश के विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में नियमित प्रकाशित होते रहें हैं। श्री राय  के इन सभी अवदानों को देखते हुए विक्रमशिला हिन्दी विद्यापीठ भागलपुर ने  ‘विद्यावाचस्पति’ (पीएच.डी.) की मानद उपाधि प्रदान किया। इस उपाधि को विद्यापीठ के कुलाधिपति सुमन जी भाई, कुलपति तेज नारायण कुशवाहा, कुलसचिव देवेन्द्र नाथ साह, के हाथों प्रदान किया गया।

सरस्वत सम्मान समारोह के कार्यकर्म के उपरांत देश भर से आए कवियों का कवि सम्मेलन हुआ ,रात्री मे श्री श्री मौनी बाबा के जन्मोत्सव पर सांस्कृतिक कार्य क्रम  का सफल आयोजन किया गया ।